loader

Breaking News


Home > International > दक्षिण कोरिया में अमेरिकी 'थाड' की तैनाती, चीन की बढ़ी चिंता


Foto

दक्षिण कोरिया में अमेरिकी 'थाड' की तैनाती, चीन की बढ़ी चिंता

Aug. 2, 2017, 7:50 p.m.
      Whatsapp  

बीजिंग, आइएएनएस। चीनी विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने बुधवार को कहा कि उन्‍होंने मिसाइल प्रणाली टर्मिनल हाई आल्टीट्यूड एरिया डिफेंस (थाड) की दक्षिण कोरिाया में तैनाती के कार्यक्रम को फिर से शुरू करने की योजना पर विरोध दर्ज कराया है। चीन सरकार थाड की सियोल में तैनाती को लेकर पहले भी कड़ी आपत्ति दर्ज करा चुकी है। चीन ने कहा कि उसने दक्षिण कोरिया को राजनयिक चैनलों के माध्यम से अपनी चिंता व्यक्त की है। साथ ही क्षेत्रीय सुरक्षा में संतुलन बनाए रखने के लिए थाड की तैनाती पर रोक लगनी चाहिए और पहले से ही तैनात किए गए इसके हिस्सों को खत्म करने की अपील की है। बता दें कि थाड के कुल 6 लॉन्‍चरों में से 2 की तैनाती पहले ही हो चुकी है। राष्ट्रपति पद से हटाई गई पार्क ग्यून हेय की सरकार के तहत थाड रक्षा प्रणाली के कई हिस्सों को देश में लाया गया था। लेकिन नए नेता मून जेइ-इन ने पिछले महीने इस कार्यक्रम को रद कर दिया था। लेकिन सोमवार को वाशिंगटन और सियोल ने इन मिसाइलों की तैनाती पर बातचीत फिर से शुरू कर दी है। चीन का कहना है कि थाड से उत्‍तर कोरिया की मिसाइल धमकी रोकने में मदद नहीं मिलेगी, बल्कि क्षेत्रीय सुरक्षा संतुलन बिगड़ेगा। अमेरिका ताकतवर थाड रडार को सियोल से लगभग 300 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में स्थापित कर रहा है। चीन का मानना है कि इनका इस्‍तेमाल सैन्य ठिकानों पर जासूसी करने के लिए भी किया जा सकता है। रक्षा मंत्री सोंग योंग-मू ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि उत्तर कोरिया के हालिया परीक्षण के जवाब में हम थाड बैटरी के बचे हुए हिस्सों की तैनाती पर जल्द ही विचार विमर्श शुरू करेंगे। थाड बैटरी छह इंटरसेप्टर मिसाइल लॉन्चरों से बनी है। दो लॉन्चरों को सियोल से करीब 300 किलोमीटर दक्षिण में स्थित सियोंग्जू काउंटी में तैनात किया गया है। रक्षा मंत्री के इस बयान के बाद चीन की चिंताएं फिर बढ़ गई हैं।